अवैध संबधों के चलते महिला सहित 4 आरोपी गिरफ्तार

0
427

कैथल 29 जुलाई (कृष्ण गर्ग)
थाना शहर पुलिस द्वारा खुराना रोड़ कैथल के एक मकान में अज्ञात व्यक्तियों द्वारा महिला हत्या मामले की ब्लाइंड मर्डर मिस्ट्री 24 घंटे मध्य सॉॅल्व करते हुए एक महिला सहित 4 आरोपी गिरफ्तार कर लिए गये। अवैध संबधों के चलते आरोपी महिला के साथ संबधों में मृतका द्वारा बाधा डालने की रंजिशन योजनाबद्ध तरीके से चारों आरोपियों द्वारा हत्या की गई थी। वारदात में लिप्त महिला सहित दो आरोपी अदालत के आदेश अनुसार न्यायिक हिरासत में भेज दिए गये, जबकि शेष दो आरोपियों का सोमवार का न्यायालय से 2 दिन के लिए पुलिस रिमांड हासिल किया गया है, जिसने व्यापक पूछताछ की जा रही है। सोमवार की सुबह सिटी थाना में आयोजित पै्रसवार्ता दौरान डीएसपी एईसी कुलभूषण ने बताया कि 27 जुलाई की शाम डीएवी कालोनी खुराना रोड़ कैथल निवासी अशोक के ब्यान थाना शहर में दर्ज मामले अनुसार उसके गली नं. 8 स्थित मकान में सितम्बर 2018 से अधेड़ आयु की एक महिला 15 सौ रुपए माहवार किराए पर रहती थी। तीन बच्चों की मां महिला तलाकशुदा बताई थी, जिसके पास एक लडकी सहित तीन बच्चे बताए गये है, जो कभी कभी उससे मिलने आ जाते थे। 27 जुलाई की शाम जब अशोक जब अपने मकान का किराया लेने पहुचां, तो कमरे के अंदर महिला मृत पडी मिली, जिसके चेहरे व गर्दन पर चोट के निशान थे।
अज्ञात व्यक्तियों द्वारा की गई हत्या के अभियोग में पुलिस अधीक्षक विरेंद्र विज द्वारा मामले को जल्द से जल्द सॉल्व करके आरोपियों को गिरफ्तार करने के आदेश दिए गये थे। प्रैसवार्ता दौरान डीएसपी एईसी कुलभूषण ने बताया कि थाना प्रबंधक शहर इंस्पेक्टर प्रदीप कुमार की अगुवाई में मामले की जांच एसआई राजकुमार की टीम द्वारा करते हुए शाम के समय पाडला बाईपास से करीब 23 वर्षीय आरोपी शुभम उर्फ शीबु निवासी प्रताप गेट को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी से पूछताछ उपरांत पुलिस द्वारा मुस्तैदी का परिचय देते हुए काफी समय से कैथल में रह रही पटियाला पंजाब निवासी महिला सिमरन कौर को रेलवे स्टेशन कैथल से तथा शक्तिनगर कैथल निवासी आरोपी ओमप्रकाश उर्फ पासी व तरसेम उर्फ संजू को डोगर गेट से काबु करके गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी शुभम ने कबूला कि उसके मृतक महिला (आशा रानी) के साथ अवैध संबध थे, जिसके बाद में आरोपी महिला के साथ भी संबध स्थापित होने कारण दोनों महिलाओं में झगडा होता रहता था। मृतक महिला आरोपी संजू पर दूसरी महिला का साथ छोडऩे के लिए भी दबाब बना रही थी, जिसके चलते आरोपी संजू द्वारा अपने उपरोक्त दोनों मित्रों को बुलाकर चारों आरोपियों द्वारा 26 जुलाई की रात एक साथ शराब पीने के उपरांत हत्या की योजना बनाई गई। रात्री करीब 2 बजे चारों आरोपी महिला के मकान पर पहंचे, जहां सिमरन मेन गेट के बाहर खडी रही, तथा सुभम की आवाज सुनकर महिला द्वारा दरवाजा खोलते ही आरोपी ओमप्रकाश व तरसेम द्वारा उसके मुंह पर मुक्कों से वार करके महिला को नीचे गिरा दिया, तथा परना से गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी गई। हत्या उपरांत दोनों आरोपियों द्वारा महिला के कमरे में अलमारी से 16 हजार रुपए नकदी तथा मोबाइल फोन लेकर बाहर खडे अपने साथियों सहित फरार हो गए। सभी आरोपी जयपुर राजस्थान फरार होने के प्रयास में थे, जिन्हें सतर्क पुलिस द्वारा समय रहते कैथल से काबु कर लिया गया। मकान से चुराई गई नकदी व मोबाइल फोन तथा वारदात में प्रयुक्त परना व स्कूटी की बरामदगी के लिए आरोपी ओमप्रकाश व तरसेम का सोमवार को न्यायालय से 2 दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया गया, जबकि महिला सहित शेष दोनों आरोपी अदालत के आदेश अनुसार न्यायिक हिरासत मेेेें भेज दिए गये।
फोटो- केटीएल02

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here