किसानों ने प्रदेश सरकार व जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुये प्रदर्शन किया।

0
357

पाई, संजय ढुल
वीरवार को पाई व पिलनी के किसानों ने प्रदेश सरकार व जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुये प्रदर्शन किया। किसानों का कहना है कि वे पिछले तीन साल से जिला प्रशासन की अनदेखी का शिकार है। किसान कृष्ण, सत्ता, टेका, रामनिवास, बनी सिंह, संजय, जयपाल, हरपाल, राजा, दीपक, सज्जन, प्रवीन, अनील, रामफल ढुल,समशेर ढुल, जयभगवान, राहुल, दिलबाग,जय पाल आदि ने बताया कि पिलनी गांव में गद्दे पानी का तालाब बना हुआ है, जिसमें पुरे गांव का गंदा पानी उस तालाब में आता है। पिलनी गांव के पास से एक ड्रेन निकलती है, जिस पर पाई व पिलनी के किसानों की कृषि निर्भर है। इस ड्रेन में पिलनी के गंदे तालाब का गंदा पानी नाले के माध्यम से डाला जाता है। इस ड्रेन से लेकर किसानों के खेतो में से खेतों में सिंचाई के लिए पक्का नाला बना हुआ है, लेकिन पंचायत द्वारा गंदे पानी के तालाब में से पाइप लाइन दबाकर जो सिंचाई के लिए नाला जिसमें रजवाहे का पानी आता है, उसके अंदर गंदा पानी छोड़ दिया। जिससे किसानों का काफी नुकसान हो रहा है। गंदा पानी खेतों में चला जाता है और जिससे किसानों की जो फसल ज्वार, मक्का और साथ ही धान की फसल उगाने की तैयारी की जा रही है, पुरे नाले के अंदर किचड़ ही किचड़ फैला हुआ है किसानों को अपने आप सफाई करनी पड़ रही है। उन्होंने बताया कि इस समस्या को लेकर अधिकारियों से मिल चुके हैं। पिछले तीन वर्षों े दौरान पंचायत को भी कई बार अवगत करवा चुके है, परन्तु इस ओर कोई ध्यान नही दिया जा रहा। जिस कारण से मजबूरन उनको सरकार व जिला प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन करना पड़ा। उन्होंने बताया कि यदि जल्दी ही इस समस्या का समाधान नही किया गया तो वे जिला मुख्यालय पर भी प्रदर्शन करने से पीछे नही हटेंगे।
फोटो सहित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here