किसी प्रलोभन से प्रभाविबिना प्रयोग करें।

0
585


कैथल, 25 जनवरी (कृष्ण गर्ग)
जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुञ्चत धर्मवीर सिंह ने युवाओं व अन्य मतदाताओं का आह्वïान किया कि वे संविधान द्वारा दिए गए मतदान के विशेषाधिकार के महत्व को समझते हुए अपने मत का निर्भिक होकर तथा  किसी प्रलोभन से प्रभाविबिना प्रयोग करें। आगामी चुनाव में ज्यादा से ज्यादा मतदाता अपने मतदान का प्रयोग करके विश्व के सभी बड़े लोकतंत्र को मजबूत करें।
धर्मवीर सिंह निर्वाचन विभाग द्वारा नौंवे राष्टï्रीय मतदाता दिवस के उपलक्ष में आरकेएसडी महाविद्यालय में आयोजित किए गए कार्यक्रम में उपस्थितगण को संबोधित कर रहे थे। इससे पूर्व उन्होंने कॉलेज परिसर से जागरूकता रैली को झंडी दिखाकर रवाना किया जो कमेटी चौक पर सक्वपन्न हुई। विद्यार्थियों ने इस रैली के माध्यम से लोगों को अपने मताधिकार का प्रयोग करने बारे जागरूक किया। उपायुञ्चत ने कॉलेज परिसर में निर्वाचन विभाग द्वारा रखी गई वीवीपैट युञ्चत ईवीएम का भी अवलोकन किया तथा वीवीपैट की जानकारी हासिल की। विद्यार्थियों को भी वीवीपैट की कार्यप्रणाली की जानकारी दी गई।
उपायुञ्चत ने कॉलेज के हॉल में उपस्थितगण को लोकतंत्र में पूर्ण आस्था रखते हुए अपने देश की लोकतांत्रिक परक्वपराओं की मर्यादा को बनाए रखने तथा स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांति पूर्ण निर्वाचन की गरिमा को अक्षुण्ण रखते हुए, निर्भिक होकर, धर्म, वर्ग, जाति, समुदाय, भाषा अथवा अन्य किसी भी प्रलोभन से प्रभावित हुए बिना सभी चुनावों में अपने मताधिकार का प्रयोग करने की शपथ भी दिलवाई। उन्होंने कहा कि हर वर्ष एक जनवरी को ञ्चवालिफाईंग तिथि मानकर मतदाता सूचियों का पुन:रीक्षण किया जाता है। हर नागरिक अपनी जिक्वमेवारी को समझते हुए 18 वर्ष की आयु पूर्ण होने पर अपना मत अवश्य बनवाएं तथा इसका प्रयोग भी करें।
उन्होंने कहा कि देश की स्वतंत्रता से पूर्व देश में राजा-महाराजाओं का शासन था, जिसमें जनता को अपना नेता चुनने का अधिकार नही है। देश की स्वतंत्रता के बाद 1950 में सभी नागरिकों को एक निर्धारित आयु पूर्ण करने पर मताधिकार का हक मिला। जिला स्तर पर निर्वाचन विभाग के निर्देशानुसार टोल फ्री हैल्प लाईन सेवा 1950 शुरू की गई है। इस सेवा पर कोई भी मतदाता अपने मत के संदर्भ में जानकारी ले सकता है। केवल पहचान पत्र होने से किसी को किसी भी व्यञ्चित को मतदान का अधिकार प्राप्त नही होता। इसके लिए यह अनिवार्य है कि संबंधित मतदाता का नाम मतदाता सूची में दर्ज हो। इसलिए सभी मतदाता अपना नाम मतदाता सूचियों में अवश्य जांच लें। उन्होंने युवाओं का आह्वïान किया कि वे लोगों को अपना वोट बनवाने तथा मताधिकार का प्रयोग करने बारे। जागरूक करें ताकि कोई भी पात्र व्यञ्चित अपने मताधिकार के प्रयोग से वंचित न रहे।
अतिरिञ्चत उपायुञ्चत सतबीर सिंह कुंडु ने कहा कि इस कार्यक्रम का उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा पात्र व्यञ्चितयों को चुनाव प्रक्रिया में शामिल करना है। विश्व के सबसे बड़े प्रजातांत्रिक देश भारत में चुनाव प्रक्रिया का अवलोकन करने हेतू विभिन्न देशों से नागरिक पहुंचते हैं। हमें शत-प्रतिशत मतदान करके अपने लोकतंत्र को मजबूत करना है। हर वर्ष 25 जनवरी को राष्टï्रीय मतदाता दिवस मनाया जाता है। जिला में मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण के तहत 18 हजार नए वोट बना गए हैं, जबकि गत 1 फरवरी से अब तक इस वर्ष लगभग 26 हजार नए वोट बनाए गए हैं। उन्होंने युवाओं का आह्वान किया कि वे स्वयं का वोट बनवाएं तथा इसका प्रयोग भी करें। इसके साथ-साथ अपने पड़ोसियों को अपने मतदान का प्रयोग करने के लिए प्रोत्साहित करें।
महाविद्यालय के प्राचार्य डा. संजय गोयल ने कहा कि कोई भी पात्र व्यञ्चित चुनाव प्रक्रिया से वंचित न रहे तथा कोई भी मतदाता अपने मताधिकार के प्रयोग से वंचित न रहे। यही उद्देश्य राष्टï्रीय मतदाता दिवस के आयोजन का होता है। देश की स्वतंत्रता के बाद 26 जनवरी 1950 को देश का संविधान लागू किया गया था। ज्यादा से ज्यादा नागरिकों को चुनाव प्रक्रिया में शामिल करने के लिए मतदान की आयु 21 वर्ष से घटाकर 18 वर्ष की गई है। आज का दिन लोकतंत्र के लिए बड़ा महत्वपूर्ण दिन है। गत 25 जनवरी 2011 से राष्टï्रीय मतदाता दिवस की शुरुआत की गई थी। उन्होंने कहा कि हर नागरिक का वोट महत्वपूर्ण है तथा हर मतदाता को अपने मताधिकार का प्रयोग करना चाहिए।
महाविद्यालय की बीए तृतीय वर्ष की छात्रा कल्पना ने मेरा मत-मेरी धरोहर विषय पर अपने विचार व्यञ्चत करते हुए कहा कि हमें विश्व की सबसे बड़े लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए मतदान के प्रतिशत को शत-प्रतिशत करना है। इसक लिए हमें मतदाताओं की राय बदलनी है तथा उन्हें अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए जागरूक करना है। उन्होंने कहा कि हमारे देश में जनता का, जनता के लिए व जनता द्वारा ही शासन है। लोगों को अपने प्रतिनिधियों को चुनने का अवसर मिलता है। हर 5 वर्ष बाद चुनाव होते हैं। महिलाओं को भी मत का अधिकार प्राप्त है। मतदाता ही देश की तकदीर व तस्वीर बदल सकते है। वर्तमान में हमारे देश में सर्वश्रेष्ठï लोकतंत्र है तथा वोट हमारी बहुमूल्य धरोहर है। इस अवसर पर मतदाताओं को जागरूक करने के लिए लघु नाटिका का भी मंचन किया गया।
उपमंलाधीश कमलप्रीत कौर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी व नगराधीश विजेंद्र हुड्डïा ने चुनाव विभाग द्वारा गत दिनों आयोजित करवाई गई विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को सक्वमानित किया तथा चारों विधानसभा क्षेत्रों में उत्कृष्टï कार्य करने वाले बुथ स्तर अधिकारियों को भी सक्वमानित किया। इनमें कैथल विधानसभा क्षेत्र की बूथ स्तर अधिकारी प्रवीण कुमारी, पूंडरी क्षेत्र के बूथ स्तर अधिकारी राजेश कुमार, कलायत क्षेत्र के बूथ स्तर अधिकारी दलबीर व गुहला क्षेत्र के बूथ स्तर अधिकारी ऋषि पाल शामिल हैं। चुनाव नायब तहसीलदार राजपाल भूरा, डा. गगन मिîाल, आरती मौन, चुनाव कानूनगो शमशेर सिंह, सुदेश, रमेश सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।
फोटो – केटीएल03

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here