कैथल जिला के 80 हजार परिवारों के लगभग साढ़े 3 लाख सदस्यों को मिलेगा आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का लाभ- उपायुक्त

0
156

कैथल, 23 जनवरी (कृष्ण गर्ग)
उपायुक्त धर्मवीर सिंह ने बताया कि समाज के गरीब और जरूरतमंद परिवारों के लिए आरंभ की गई आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत कैथल जिला के लगभग 80 हजार परिवारों को वर्ष में 5 लाख रुपए तक के नि:शुल्क ईलाज की सुविधा प्राप्त होगी। उन्होंने कहा कि इस योजना में वर्ष 2011 में आर्थिक, सामाजिक जनगणना के चिन्हित परिवारों को शामिल किया गया है।
धर्मवीर सिंह ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा अब तक ऐसे 15 हजार परिवारों को गोल्डन ई-कार्ड जारी किए जा चुके हैं और इस योजना के शेष पात्र परिवारों को ही चरणबद्ध तरीके से इस तरह के कार्ड उपलद्ब्रध करवाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि इस योजना के लाभ पात्र राजकीय अस्पताल के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग द्वारा सूचीबद्ध किए गए निजी अस्पतालों में भी इस योजना का लाभ हासिल कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि यह लाभ कैथल जिला के साथ-साथ प्रदेश के अन्य जिलों में भी सरकारी और सूचीबद्ध अस्पतालों में प्राप्त किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि ऐसे अस्पतालों का पूरा डाटा ऑनलाईन अपलोड किया गया है और कोई भी व्यञ्चित प्रदेश के किसी भी कोने में इस योजना का लाभ ले सकता है।
सिविल सर्जन डा. सुरेंद्र नैन ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा निर्णय लिया गया है कि अब ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में स्थित अटल सेवा केंद्रों के माध्यम से भी आयुष्मान भारत स्वास्थ्य योजना के गोल्डन ई-कार्ड जनरेट किए जा सकेंगे। उन्होंने कहा कि इन निर्देशों को शीघ्र ही कार्य रूप दिया जाएगा, ताकि लोगों को कार्ड बनवाने के लिए मुक्चयालय अथवा उपमंडल स्तर के अस्पतालों के चञ्चकर न लगाने पड़े, बल्कि वे अपने नजदीकी स्थल पर ही अटल सेवा केंद्रों के माध्यम से यह सुविधा प्राप्त कर सके। उन्होंने बताया कि जिला में अब तक 35 परिवारों द्वारा इस योजना का लाभ लिया गया है और उनके ईलाज के खर्च की भरपाई की स्वीकृति भी विभाग से प्राप्त की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा 40 से अधिक अन्य परिवारों में इस योजना के तहत ईलाज से संबंधित पंजीकरण करवाया है और उनकी औपचारिकताएं भी जल्द पूरी कर ली जाएंगी। उन्होने बताया कि योजना के बेहतर क्रियान्वयन के लिए आयुष्मान मित्र भी तैनात किए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here