क्या सर·ार ·े इन आदेशों से प्रदेशों में शिक्षा ·ा स्तर सुधर पायेगा?

0
208

4KTL Dharamvir rishipal gupta Satayvan

·ैथल
प्रदेश सर·ार ने प्रदेश में शिक्षा ·ा स्तर सुधारने ·े लिये प्रत्ये· माह बच्चों ·े टेस्ट लेने ·े आदेश पारित ·िये है। क्या सर·ार ·े इन आदेशों से प्रदेशों में शिक्षा ·ा स्तर सुधर पायेगा? इस बारे में जब जनता से जाना चाहा तो यही जवाब मिला ·ि इस ·े लिये सर·ार बेवजह बच्चों ·ा समय बर्बाद ·रने ·ा निश्चय लिया गया है। सर·ार द्वारा गिरते वास्तवि·ता ·ो नही समझा है और आनन- फानन में हर माह टेस्ट लेने ·े आदेश पारित ·र दिये गये।
सेरधा निवासी त्रृषि पाल गुप्ता ·ा ·हना है ·ि सर·ार द्वारा जो निर्णय लिया गया है। इससे शिक्षा ·े स्तर में बिल्·ुल भी सुधार नही होगा, अपितु शिक्षा ·ा स्तर इससे भी अधि· गिर जायेगा। क्यों·ि बच्चों ·े पास पढ़ाई ·े लिये समय ही नही रहेगा। पहले ही अधि· समय अव·ाशों में बीत जाता है और अब टेस्टों में भी अधि·  समय बीत जायेगा।

अशो· ·ुमार ने बताया ·ि टेस्ट लेने ·ुछ भी होने वाला नही है। प्रदेश में शिक्षा ·े स्तर गिरने ·ा मुख्य ·ारण है, बच्चों ·ी लिखाई। बच्चों ·ी लिखाई ·ा इतना स्तर गिर चु·ा ·ि बी ए पास बच्चा अपना लिखा बाद में अपने आप ही नही पढ़ स·ता है। बच्चें गाईडों ·े सहारे पढ़ाई ·ा रटा तो लगा लेते है, परन्तु उन·ो न तो पढ़ाई ·ी वास्तवि·ता ·ा पता होता और न ही लिखाई ·ी जाती। जिससे बच्चें अपनी समझ से पेपर तो ठी· प्र·ार से दे·र आते है, परन्तु मार्· ·रने वाले अध्याप·ों ·ी समझ में ·ुछ भी नही आता ·ि बच्चें ने लिखा क्या? ऐसी हालत में प्रश्न ·ा उत्तर ठी· होने ·े बावजूद भी अं· नही दिये जा स·ते ।

चन्दाना निवासी सत्यावान ·ा ·हना है ·ि पहले प्राईमरी ·क्षाओं में तख्ती, ·लम, दवात ·ा उपयोग होता था, जिससे ·ापियों पर तथा तख्तियों पर लिख ·र सुलेख ·ो सुधारा जाता था। अब इन सब·ो बंध ·र दिया गया और बच्चों ·ी लिखाई बिगड़ गई। लिखाई खराब होने ·ारण शिक्षा ·ा स्तर भी गिर गया। यदि सर·ार शिक्षा ·ा स्तर सुधारना चाहती है, तो उस·ो पहले ·ी तरह तख्ती, ·लम, दवात ·ो चालू ·रना पडेगा।

नैना ·े धर्मवीर ने बताया ·ि शिक्षा ·े स्तर ·ा गिरने ·ा दूसरा मुख्य ·ारण है सेमेस्टर प्रणाली ·ा चालू ·रना। इससे बच्चों ·े पास न तो पढऩे ·ा समय होता और न ही अध्याप·ों ·े पास पढ़ाने ·ा। सर·ार द्वारा जारी ·ी गई पाठ्य पुस्त·ों में अध्याप· बच्चें ·ी तैयारी ·रवाने ·ी बजाये गाईड़ ·ा ही सहारा लेते है। यदि बच्चों ·ो पढऩे ·े लिये पुरा ए· साल ·ा समय मिल जाये तो शिक्षा ·ा स्तर सुधर जायेगा वरना नही, चाहे सर·ार जो मर्जी ·रले। ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here