पात्र व्यक्तियों को योजना का लाभ मिले, इसके लिए अनेक कदम उठाए गए- मुख्यमंत्री

0
637

कैथल, 29 अगस्त (कृष्ण गर्ग)
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि पात्र व्यक्तियों को योजना का लाभ मिले, इसके लिए अनेक कदम उठाए गए हैं। मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना के तहत एक लाख 80 हजार रुपए वार्षिक आय वाले व्यक्तियों को सालाना 6 हजार रुपए की आर्थिक मदद की जाएगी। केंद्र सरकार से मिलने वाली अन्य योजनाओं का लाभ लाभार्थियों को निरंतर मिलता रहेगा।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल पंचकूला के रैडबिशप से वीडियो लिंक के माध्यम से मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना का शुभारंभ करने उपरांत बोल रहे थे। इसका सीधा प्रसारण पूंडरी खंड के गांव बरसाना से किया गया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश वासियों को राहत देते हुए 31 मार्च 2019 तक के सभी हाऊस टैक्स के ब्याज को माफ करने की घोषणा की और 10 प्रतिशत छूट के साथ प्रोपर्टी टैक्स भरने वालों को राहत देते हुए उसकी तिथि 31 दिसंबर 2019 तक करने की घोषणा की। इसके साथ-साथ छोटे क्षेत्र में बने मकानों के प्लाटों का नक्शा पास करवाने की प्रक्रिया में संबंधित विभाग द्वारा एक प्रारूप तैयार किया जाएगा, जोकि मान्य होगा। इस व्यवस्था से संबंधित व्यक्तियो को नक्शा नवीस से नक्शा बनाने की जरूरत नही रहेगी, जिससे लोगों को आर्थिक लाभ होगा।
उन्होंने मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि यह योजना समृद्ध परिवार-सुरक्षित परिवार-सशक्त परिवार को बढ़ावा देगी। इस योजना के तहत निम्र आय वाले परिवार जिनकी वार्षिक आय 1 लाख 80 हजार रुपए तक तथा मालिकाना भूमि दो हैक्टेयर तक है, उन सभी को 6 हजार रुपए वार्षिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस राशि में से लाभार्थी के परिवार के सदस्यों के बीमा और पैंशन योजना का प्रीमियम दिया जाएगा, शेष राशि को मुखिया के जन-धन अकांउट में डाल दिया जाएगा। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री मान धन योजना, प्रधानमंत्री लघु व्यापार योजना के तहत लाभार्थी द्वारा दिया जाने वाला अंशदान अब हरियाणा सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। इस योजना के तहत प्रदेश में परिवार पहचान पत्र बनाने का कार्य चल रहा है। राज्य के 2 लाख 18 हजार 890 परिवार को पंजीकृत किया जा चुका है। आने वाले समय में हरियाणा प्रदेश के लगभग 15 से 20 लाख परिवार इस योजना के तहत लाभान्वित होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि जो व्यक्ति इस योजना के तहत कवर होंगे, अगर वह केंद्र सरकार की योजना का लाभ भी ले रहे हैं तो दोनों योजनाओं का लाभ संबंधित व्यक्ति को मिलेगा। उन्होंने कहा कि सभी अटल सेवा केंद्रों में परिवार पहचान पत्र ऑनलाईन फार्म भरने की व्यवस्था की गई है। प्रदेश के सभी आमजन, कर्मचारी, उद्योगपति अपना पूर्ण विवरण देकर परिवार पहचान पत्र बनवाएं, ताकि भविष्य में सभी के हितों की योजनाओं को अमलीजामा पहनाया जा सके। इस मौके पर उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी, एसडीएम कैथल जगदीप सिंह, एसडीएम गुहला शशि वंसुधरा, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी राजबीर खुंडिया, तहसीलदार चेतना चौधरी, खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी कंचन लता, जिला कल्याण अधिकारी सीमा देवी, सुशील कुमार, बलबीर सिंह सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here