प्रदेश के सभी जिलों में जारी धरनों को समुदाय का पूरा सहयोग मिल रहा

0
259

p01

कैथल  31 जनवरी ( कृष्ण गर्ग )
जाट समुदाय द्वारा आरक्षण व सात मांगों के लिये देवबन कैंची पर दिये जा रहे धरने का तीसरा तीन शान्ति पूर्व निकल गया। इस धरने में अब लगातार जमावड़ा बढ़ता जा रहा है। मंगलवार को जिला जींद से आई समुदाय की सदस्या ऊषा मोर ने धरने को सम्बोधित करते हुये कहा कि प्रदेश के सभी जिलों में जारी धरनों को समुदाय का पूरा सहयोग मिल रहा है। प्रदेश सरकार अब जल्दी ही समुदाय के आगे झुकती नजर आयेगी। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक को बाहर का बताने वाले खुद अपने गिरेबान में झांक कर देख ले कि उनकी पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष क्या अलग- अलग राज्यों से है। उनके प्रधान भी तो दूसरे राज्यों से सम्बध रखते है और फिर वे दूसरे राज्यों में क्यों अपना हक जमाते है। इसके अलावा आज जिला कैथल के कई अन्य लोगों ने अपना समर्थन दिया है। धरने में शामिल सभी लोग जहां ताश खेल कर अपना समय व्यतीत कर रहे है, वहीं वे रांगनियों का भरपूर मजा ले रहे। धरने में महिलायें भी बढ़ चढ़ कर भाग ले रही है और दिखा रही है कि वे भी किसी से कम नही।
रागनियों में कर रहे देसी जुगाड़ का प्रयोग

p02
धरने स्थल पर गायक जहां रागनियों को गाकर लोगों का मनोरंजन कर रहे है, वही वे आज के इस वैज्ञानिक युग में साजों की बताये देसी जुगाड़ का प्रयोग कर रहे है। इस में वे मिट्टी के मटके के ऊपर एक रबड़ को कस कर बांध देते है और फिर उसको बजाते है। जब गायकों के लिये साज नही होते थे, तो उस समय इसी प्रकार से गाने के दौरान देसी साज से ही लुप्त उठाते थे।

जिला प्रशासन के निर्देश पर शराब का ठेका बंद

p03
जिला प्रशासन द्वारा धरने के दौरान पांच किलो मीटर की परिधि में शराब के ठेके बंद करने के आदेश दिये गये है, तो इन आदेशों के अनुसार देवबन गांव में धरने के पास ही खुला शराब को ठेका अब बंद रहने लग गया है।
धरने स्थल पर आज मनाई जायेगी छोटु राम की जयंती
एक फरवरी को सरकार एक तरफ देश का बजट पेश कर रही होगी तो उसी दौरान धरना स्थल देवबन में समुदाय के मसीहा छोटु राम की जयंती मनाई जायेगी। जिसमें अखिल भारतीय जाट महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक भाग लेंगे। इसके लिये तैयारियां शुरू कर दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here