बजट से किसान नाखुश

0
648


कैथल, 1 फरवरी(कृष्ण गर्ग)
देश के वित्तमंत्री पियूश गोयल के द्वारा शुक्रवार को देश का बजट पेश किया गया। किसानों के लिये की गई घोषणाओं से किसान नाखुश दिखाई दिये। किसान यूनियन के राष्ट्रीय सलाहकार अजीत सिंह हाबड़ी ने कहा कि दो हैक्टेयर यानी पांच एकड़ से कम जमीन वाले किसानों को 6000 रुपये प्रति वर्ष देने की जो घोषणा की है, वह ऊंट के मुंह में जीरे के समान है। उन्होंने कहा कि किसानों को सरकार ने मजदूरों को 3 हजार रुपये प्रति महीना पेंशन देने से भी गये गुजरे समझे है। किसानों को सरकार की यह योजना स्वीकार नही।


किसान बक्खा सिंह ने कहा कि सरकार ने देश के किसानों के लिये भद्दा मजाक किया है। उन्होंने कहा कि सरकार को 6 हजार प्रतिवर्ष की बजाये प्रति महीना देना चाहिये था। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने यह कैसे सोच लिया कि इससे किसान मान जायेंगे और वे किसानों के वोट इन चुनाव में हथिया लेंगे।


किसान गुरबक्श सिंह ने इस घोषणा को नाकाफी बताते हुये कहा कि देश के किसान इससे नाखुश है और सरकार के झांसे में नही आने वाले है। जब तक किसानों की पेंशन स्कीम प्रति महीना 6 हजार लागू नही की जाती देश का किसान चुप नही बैठेगा।


उधर भाजपा युवा किसान मोर्चे के सदस्य सज्जन सिंह ढुल ने इस घोषणा को अच्छा बताते हुये कहा कि सरकार ने किसानों के हित में यह ऐ अच्छा कार्य किया है। इससे पांच एकड़ तक के किसानों का खाद व बिजली बिल से छुटकारा मिल जायेगा। यह सरकार किसान हितैषी सिद्ध हुई है।
फोटो सहित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here