बिजली के बिल भरने के लिये पाई के ग्रामीणों ने विभाग के प्रति प्रदर्शन किया

0
485


कैथल, 24 जनवरी (कृष्ण गर्ग) ेे
प्रदेश सरकार एक तरफ तो लोगों को बिजली के बिल भरने के लिये दबाव बना रही है, वही जिला प्रशासन अधिकारियों की चलती लापरवाही के कारण जो लोग बिल भरना चाहते है, उनसे बिल लिये ही नही जाते। इसी समस्या को लेकर विरवार को पाई के ग्रामीणों ने विभाग के प्रति प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने बताया कि पाई में उनके बिजली के बिल लेने के लिये कोई अधिकारी नही आता। जिस कारण से ग्रामीण अपने बिजली के बिल भरने से वंचित रह जाते है और आगे उनको बकाया राशि पर ब्याज देना पड़ता है। उन्होंने बताया कि वे विभाग के उच्चाधिकारियों से पाई में बिजली के बिल लेने के लिये अपने कर्मचारी बैठाने आग्रह कर चुके है, परन्तु इस ओर कोई ध्यान नही दिया जा रहा। आज भी वे अपने बिजली के बिल भरने के लिये आये थे, परन्तु आज भी यहां कोई कर्मचारी नही है, जिसको वे अपने बिल की अदायगी कर सके। उन्होंने यह भी बताया कि पाई में उनके बिजली के बिलों को उनके घरों पर आकर नही दिया जाता है और उनको अपने बिल का पता नही चल पाता। ग्रामीण इस वजह से भी अपने बिल भरने से वंचित रह जाते है। इस अवसर पर अनाज मंडी प्रधान रणधीर ढुल, धर्मपाल, कुन्दन, चन्द्रभान, फूल सिंह, दिवाना, राम स्वरूप, आदि सेकड़ों लोग उपस्थित थे।

पीछे भरे हुये बिल के पैसे भी अब आगे जोड़ कर भेजे गये- ग्रामीण
उक्त प्रदर्शनकारियों ने बताया कि उन्होंने अपने बिजली के बिल समय पर भर दिये थे, परन्तु उसके बाद भी अब आये इन बिलों में पिछले बिलों की राशि भी भरे जाने के बाद जोड़ दिया गया है। जिससे उनको ये बिल ठीक करवाने में भी परेशानी आ रही है।

लापरवाही बरते वाले कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई- एक्सईएन
इस बारे में विभाग के पुंडरी एक्सईएन सोमवीर से जाना गया तो उन्होंने बताया कि इस मामले में अधिकारी देरी से पहुंचने का तो उसको पता है। वे एस डी ओ से पता कर कि लोगों के घरों में बिल ने पहुंचने, कर्मचारियों का बिल लेने के लिये न बैठने तथा भरे हुये बिल दुबारा नये बिलों में लगाने जैसी गलती करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।
फोटो सहित- पी01,02

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here