मुक्चयमंत्री द्वारा घोषित विकास परियोजनाओं को विशेष प्राथमिकता पर करें पूरा : पीके दास

0
547


कैथल, 25 जनवरी (कृष्ण गर्ग)
हरियाणा के स्कूल शिक्षा विभाग के अतिरिञ्चत मुक्चय सचिव एवं मुक्चयमंत्री घोषणाओं के क्रियान्वयन के कैथल जिला के प्रभारी पीके दास ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे मुक्चयमंत्री द्वारा घोषित की गई विकास परियोजनाओं को विशेष प्राथमिकता पर पूरा करें। उन्होंने कहा कि ऐसे विकास कार्य जिनमें एक से अधिक विभाग शामिल हैं, वे बेहîार तालमेल से कार्य करें, ताकि विकास कार्यों में अनावश्यक देरी न हो।
पीके दास आज लोक निर्माण विश्राम गृह में आयोजित अधिकारियों की बैठक के दौरान विकास परियोजनाओं की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पेयजल जैसी सुविधाओं से जुड़ी विकास परियोजनाएं विशेष पहल पर पूरी की जानी चाहिए, ञ्चयोंकि यह विषय नागरिकों की दैनिक जरूरत से जुड़ा है। उन्होंने कहा कि बड़ी विकास परियोजनाओं के फोटोग्राफ का रिकार्ड रखें, ताकि आवश्यकता अनुसार मुक्चयालय के अधिकारी उनका इस्तेमाल कर सकें। उन्होंने फल्गु तीर्थ से जुड़े विकास कार्यों की समीक्षा के दौरान उन्होंने पंचायती राज और लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे इन कार्यों को समय से पूरा करने के साथ-साथ गुणवîाा पर भी विशेष ध्यान दें। इसके अलावा मेले के दौरान तीर्थ यात्रियों की सुविधा के लिए महिला और पुरूषों के अलग-अलग शौचालयों के निर्माण की परियोजनाओं को भी जल्द पूरा करें।
उन्होंने कहा कि विकास परियोजनाओं को समय से पूरा करने के साथ-साथ अस्पताल, विद्यालय, कार्यालय से जुड़े स्वीकृत पदों को सृजित करवाने में भी प्रक्रिया साथ की साथ आरंभ करें, ताकि भवन बनते ही सेवाएं उपलद्ब्रध हो सकें। उन्होंने गांव मुंदड़ी में बनने वाले महर्षि वाल्मीकि संस्कृत विश्वविद्यालय के भवन का डिजाईन विशेष आकार में निर्मित करवाने के निर्देश दिए, ताकि यह एक सामान्य भवन की तरह नजर आने की बजाए, प्राचीन गुरूकुल की तर्ज पर तैयार हो। उन्होंने गांवों और सड़कों पर लगाई जाने वाली स्ट्रीट लाईटों में सौर ऊर्जा के प्रयोग की आवश्यकता पर बल दिया, ताकि बिजली बिल के रूप में खर्च होने वाली राशि को बचाया जा सके।
ञ्चयोड़क गांव से जुड़ी परियोजनाओं को जल्द पूर करें और किसी सार्वजनिक स्थल पर उसकी जानकारी भी प्रदर्शित करें।
उन्होंने मुक्चयमंत्री द्वारा गोद लिए गए गांव ञ्चयोड़क की विकास परियोजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि इन कार्यों को पूरा करने के साथ-साथ गांव के सौंदर्यकरण पर भी विशेष बल दें। सरकार द्वारा इस गांव के विकास के लिए उपलद्ब्रध करवाए जा रहे विशेष अनुदान की जानकारी किसी सार्वजनिक स्थल पर विकास दीवार पर प्रदर्शित करें, ताकि हर गांव वासी को गांव में उपलद्ब्रध हुए अनुदान और किए गए विकास कार्यों की जानकारी पारदर्शी तरीके से मिल सके। इसके अलावा उन्होंने विभिन्न विभागों के माध्यम से कैथल, गुहला-चीका, पूंडरी, सीवन, पाई, ञ्चयोड़क व जिला के अन्य ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा की।
इस मौके पर उपायुञ्चत धर्मवीर सिंह, पुलिस अधीक्षक वसीम अकरम, अतिरिञ्चत उपायुञ्चत सतबीर कुंडु, उपमंडलाधीश गुहला संजय कुमार, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी कंवर दमन सहित सभी विभागों के उच्चाधिकारी मौजूद रहे।
फोटो – केटील04

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here