यदि सरकार कुछ करने में असमर्थत है तो सरकार भंग कर, राष्ट्रपति देश की कमान सेना व जनता को सौंपे।

0
523


कैथल, 15 फरवरी (कृष्ण गर्ग)
आतंकवादियों द्वारा मारे के जवानों को मारने जाने पर शुक्रवार को कैथल की अनाज मंडी में कई संगठनों ने हड़ताल कर पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन किया और राष्ट्रपति के नाम उपायुक्त प्रियंका सोनी को ज्ञापन भी दिया। ज्ञापन में लोगों ने राष्ट्रपति से मांग की है कि यदि किसी भी सरकार से देश में आतंकवाद समाप्त नही हो रहा तो सरकार भंग करके देश की कमान जनता व सेना को सौंपी जाये।
शुक्रवार को सुबह जैसे ही अनाज मंडी खुली तो मंडी के आढ़तियों, मुनीम एसोसिएशन, मजदूर एसोसिएशन द्वारा आतंकवादियों द्वारा मारे गये सैनिकों के रोष में हड़ताल कर दी और मंडी में स्थित लक्ष्मी नारायण मंदिर के सामने एकत्र हो गये और और वीर शहीदों को श्रद्धांजली देने के लिये दो मिनट का मौन रखा। उसके बाद इस संहार की निंदा की। सभी संगठनों ने रोष स्वरूप मंडी में प्रदर्शन किया और बाद में जलूस के रूप में जाखैली अड्डा, पुराना बस स्टैंड, पेहवा चौक से होते हुये लघु सचिवालय गये। लोगों में इतना रोष देखने को मिला की लघु सचिवालय में कही भी पैर रखने तक की जगह नही थी। वहां पर पाकिस्तान व सरकार के खिलाफ नारे बाजी की गई और मंडी प्रधान कृष्ण मितल के नेतृत्व में उपायुक्त को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिया। ज्ञापन के माध्यम से राष्ट्रपति से मांग की गई की हमारे वीर कब तक ऐसे संहार सहते रहेंगे। जब पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नही आता तो उसके खिलाफ आतंकवाद के खात्मे के लिये ठोस कदम क्यों नही उठाये जाते। राजनीति व वोट के खेल में हम अपने वीर जवानों को कब तक ऐसे खोते रहेंगे। यदि किसी भी सरकार से देश में यह आतंकवाद व इसको चलाने वाला देश पाकिस्तान काबू नही आते तो सरकार को तत्काल भंग कर देश की कमान सेना व जनता को सौंप दी जाये। उधर वकील एसोसिएशन तथा आर के एस डी कालेज के छात्रों ने भी पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन कर पेहवा चौक पर पाकिस्तान का पुतला फुंका।
फोटो सहित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here