राइस मिल मालिकों व पक्की वालों की ब्याज दर कम करने की मांग को ठुकरा दिया

0
166

कैथल, 13 नवंबर (कृष्ण गर्ग)
मंगलवार को नई अनाज मंडी स्थित लक्ष्मी नारायण मन्दिर में फूड ग्रेन डीलर एसोसिएशन की एक बैठक हुई, जिसमें किसानों की फसल बेचने के बारे में कई निर्णय लिये गये। बैठक में बोलते हुुुये मंडी प्रधान कृष्ण मितल ने बताया की उनके पास कुछ समय पूर्व राइस मिल मालिकों व पक्की वालों का एक पत्र आया हुआ है, जिसमें उनके द्वारा मंडी में से खरीद किये गये ब्याज की दर में परिवर्तन कर ब्याज दर कम की जाये। उन्होंने बताया कि इस समय मंडी से खरीद की गई फसल की अदायगी देरी से करने पर 50 दिन तक दस दिन की छूट व ब्याज दर 1.5 प्रतिशत तथा उसके बाद छूट समाप्त ब्याज दर 1.5 प्रतिशत और 120 दिनों के बाद ब्याज दर शुरू से 1.65 प्रतिशत की दर से लगता है। उन्होंने दर बदल कर ब्याज दर 1.25 प्रतिशत की दर करने की मांग की है और ऐसा न करने पर हड़ताल करने की कही है। इस पर मंडी के आढ़तियों ने उनकी इस मांग को ठुकरा दिया और कहा कि बेशक हड़ताल कर ले , परन्तु ब्याज दर पहले की तरह रहेगी। उधर आढ़तियों द्वारा किसानों या व्यापारियों की जो फसल बेची जाती है, यदि उसमें ऊपर नीचे फर्क पाया जाता है तो ऐसी हालत में यह सारी ढेरी मंदिर या गऊशाला में दान कर दी जायेंगी। ढेरी तुलने के बाद खरीद दार द्वारा फर्क बताने के किसी दावे पर विचार नही किया जायेगा। बैठक मेंं खरीद की दामी 3.5 प्रतिशत की गई और कोई आढ़ती विशेष रूप की स्थिति में 3 प्रतिशत पर अपना माल नही बेचेगा। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि सभी आढ़ती, राइस मिल वाले तथा पक्की वाले 31 मार्च तक अपना हिसाब किताब क्लीयर करेंगे। बैठक श्याम लाल नोच, समाज सेवी लाजपत सिंगला, श्रवण क्योंडक, बिरभान, जय किशन मान, धनी राम, सतवीर, ईश्वर जैन, पवन बंसल, राजेश आदि भी उपस्थित थे।
फोटो सहित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here