सख्त दिशा-निर्देश देते हुए कहा, तुरंत शहर से पानी निकासी कार्य शुरू करें- उपायुक्त

0
335

ktl01

कैथल 02 अगस्त (जनक्लब न्यूज)
उपायुक्त सुनीता वर्मा ने वर्षा के बाद कैथल शहर में पानी की निकासी के प्रबंधों का जायजा लिया तथा संबंधित विभागों के अधिकारियों को सख्त दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि वे तुरंत शहर से पानी निकासी कार्य शुरू करें। तकनीकी विभागों के उच्चाधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि शहर में किसी भी क्षेत्र में भविष्य में जल भराव न होने पाए। भविष्य में जल भराव की स्थिति उत्पन्न होने की दिशा में संबंधित विभाग के उच्चाधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।
उपायुक्त सुनीता वर्मा ने शहर में जल निकासी के प्रबंधों का जायजा लेने के बाद कैंप कार्यालय में समीक्षा करते हुए लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वे यह सुनिश्चित करें कि लघु सचिवालय परिसर तथा न्यायिक परिसर के प्रवेश द्वारों पर किसी भी सूरत में जलभराव न हो। यदि भविष्य में जलभराव की स्थिति उत्पन्न होती है तो संबंधित विभाग के उच्चाधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि वर्षा के बाद लघु सचिवालय एवं न्यायिक परिसर के प्रवेश द्वारों से जल निकासी के तुरंत प्रबंध किए जाएं।      उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा ऐसे भवनों के निर्माण के दौरान जल निकासी की समूचित व्यवस्था की जानी चाहिए थी, ताकि अब इन परिसरों में जल भराव की स्थिति उत्पन्न न होती। उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिए कि भविष्य में लघु सचिवालय तथा न्यायालय परिसर के प्रवेश द्वारों पर किसी भी सूरत में जलभराव की स्थिति उत्पन्न नही होनी चाहिए।
उन्होंने जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि स्थानीय पेहवा चौक से मिलन पैलेस तथा पेहवा चौक से लघु सचिवालय तक के सीवरों की तुरंत सफाई करवाई जाए, ताकि वर्षा के दौरान सडक़ों पर जल भराव की स्थिति होने से लोगों को हो रही परेशानी से छुटकारा दिलाया जा सके तथा जलभराव से सडक़ों के क्षतिग्रस्त होने से होने वाले सार्वजनिक संपत्ति के नुकसान को रोका जा सके। उन्होंने कहा कि यदि भविष्य में शहर में इन स्थलों पर जलभराव की स्थिति उत्पन्न होती है तो संबंधित उच्चाधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया जाएगा। उन्होंने नगर परिषद के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वे स्थानीय हिंदू विद्यालय से कबूतर चौक व चंदाना गेट जाने वाली सडक़ के रख-रखाव पर ध्यान दें। इसके साथ-साथ शहर में साफ-सफाई के बाद कचरे को भी उठवाना सुनिश्चित करें।
उन्होंने सर्व प्रथम लघु सचिवालय के प्रवेश द्वार से होते हुए अमरगढ़ गामड़ी, कबूतर चौक, पीर मैदानी मोहल्ला, श्मशान घाट रोड, आउटर चंदाना गेट, पुराना अस्पताल, गौशाला रोड, रैडक्रॉस रोड, खुराना बाईपास, अंबाला बाईपास, अंबाला रोड, पेहवा चौक, करनाल रोड पर जलभराव का जायजा लिया तथा अधिकारियों को पानी की निकासी के तुरंत प्रबंध करने के निर्देश दिए। उन्होंने स्थानीय कमेटी चौक, हिंद सिनेमा चौक का जायजा लिया। उन्होंने समीक्षा बैठक में अधिकारियों से सीवर सफाई की जानकारी हासिल करते हुए कहा कि वर्षा ऋतु शुरू होने से पूर्व सीवरों की सफाई करवाई जानी चाहिए थी, ताकि इस समय जलभराव की स्थिति उत्पन्न न होती। उन्होंने जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को आज ही बकैट टाईप मशीन सीवर की सफाई में लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पेहवा चौक से मिलन पैलेस तथा पेहवा चौक से लघु सचिवालय तक तुरंत सीवरों की सफाई करवाई जाए, ताकि आम जनता को आवाजाही में परेशानी न हो।
उन्होंने शहर में नगर परिषद द्वारा घर-घर से कचरा एकत्रित करने हेतू शुरू किए गए अभियान की प्रशंसा की तथा कहा कि डस्टबीनों के आसपास गंदगी को साफ करने के लिए सफाई कर्मचारी तैनात किए जाएं। टै्रक्टर-ट्रालियों के अतिरिक्त स्वच्छ भारत मिशन से प्राप्त स्वच्छता वाहनों को भी कचरा एकत्रित करने में लगाया जाए। इस मौके पर जन स्वास्थ्य विभाग के कार्यकारी अभियंता विनोद सरोहा, लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता कुलदीप सिंह, नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी विक्रम सिंह, एमई राजकुमार शर्मा सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here