सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में होगी गु्रप डी की लिखित परीक्षा : उपायुकत

0
116

कैथल, 9 नवम्बर (कृष्ण गर्ग)
उपायुकत धर्मवीर सिंह ने परीक्षा केंद्र अधीक्षकों को निर्देश देते हुए कहा कि वे हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग द्वारा ग्रुप डी पदों की लिखित परीक्षा के संदर्भ में जारी की गई हिदायतों का अध्ययन करें तथा अपने सभी इनविजीलेटर को भी यह हिदायतें पढ़ाएं, ताकि लिखित परीक्षा के संदर्भ में उन्हें पूरा ज्ञान हो सके। लिखित परीक्षा को सरकार द्वारा गंभीरता से लिया जा रहा है तथा इसे नकल रहित व शांति पूर्वक संपन्न करवाना सुनिश्चित करें। जिला प्रशासन द्वारा डियूटी मैजिस्ट्रेट तथा पर्याप्त संक्चया में पुलिस बल तैनात किया गया है।
धर्मवीर सिंह लघु सचिवालय स्थित सभागार में हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग द्वारा ग्रुप डी हेतू 10 एवं 11 नवंबर को आयोजित करवाई जा रही लिखित परीक्षा को नकल रहित एवं शांति पूर्वक संपन्न करवाने हेतू आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा सक्चत हिदायतें जारी की गई हैं तथा सरकार की छवि इस परीक्षा के साथ जुड़ी हुई है। पहली बार इतने व्यापक स्तर पर लिखित परीक्षा का आयोजन आयोग द्वारा करवाया जा रहा है। सभी केंद्र अधीक्षक केंद्र के बाहर फोटो स्टेट की दुकानों पर भी नजर रखें। जिला प्रशासन द्वारा परीक्षा के दौरान परीक्षा केंद्रों की 200 मीटर की परिधि में स्थित फोटो स्टेट की दुकाने बंद रखने के आदेश जारी किए गए हैं। यदि कोई संदिग्ध गतिविधि नजर आती है तो तुरंत जिला प्रशासन, पुलिस अथवा आयोग के प्रतिनिधियों को इसकी सूचना दें। आयोग द्वारा परीक्षा केंद्रों में मोबाईल फोन ले जाने पर पूर्ण पाबंदी लगाई गई है, ऐसे में केवल लैंडलाईन फोन का प्रयोग किया जाए। आयोग द्वारा परीक्षा केंद्रों में मोबाईल जैमर व सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। आयोग द्वारा लिखित परीक्षा के दौरान वीडियाग्राफी भी करवाई जाएगी। परीक्षार्थियों की प्रवेश द्वार पर पूरी जांच पड़ताल की जाएगी तथा बायोमैट्रिक उपस्थिति भी इसी स्थान पर दर्ज करवाई जाएगी। कैथल शहर में 43 परीक्षा केंद्र स्थापित किए गए हैं। लिखित परीक्षा के हर सत्र में 11 हजार 498 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे।
धर्मवीर सिंह ने कहा कि पुलिस द्वारा लिखित परीक्षा के लिए सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए हैं। चार डीएसपी के नेतृत्व में पैट्रोलिंग पार्टियां गठित की गई हैं तथा 10 पैट्रोलिंग पार्टियां एसएचओ / उप निरीक्षक के नेतृत्व में गठित की गई हैं। प्रत्येक परीक्षा केंद्र के बाहर वाहनों के पार्किंग हेतू 2-2 यातायात पुलिस के जवान तैनात किए गए हैं तथा परीक्षा केंद्र की बाहरी दीवार की सुरक्षा के लिए 4-4 जवान तैनात किए गए हैं। प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर सहायक उप निरीक्षक के नेतृत्व में 10 जवान तैनात किए गए हैं, जिनमें 2-2 महिला पुलिस कर्मी भी शामिल हैं। सभी संबंधित शिक्षण संस्थाओं के डियूटी पर तैनात कर्मचारी अपनी संस्था के पहचान पत्र अवश्य साथ रखें। आयोग द्वारा भी डियूटी पर तैनात कर्मचारियों को पहचान पत्र वितरित किए जाएंगे।
लिखित परीक्षा की नोडल अधिकारी एवं उपमंडलाधीश कमलप्रीत कौर ने कहा कि आयोग द्वारा ग्रुप डी पदों हेतू 10, 11, 17 व 18 नवंबर को प्रात: कालीन एवं सायं कालीन सत्रों में लिखित परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है। इन पदों के लिए लगभग 17 लाख आवेदकों ने आवेदन किया है। उन्होंने बताया कि इन लिखित परीक्षाओं के प्रात: कालीन सत्र में सुबह साढ़े 10 बजे से 12 बजे तक परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। परीक्षार्थियों को सुबह साढ़े 8 बजे से साढ़े 9 बजे तक परीक्षा केंद्र में प्रवेश की अनुमति मिलेगी तथा इसके बाद किसी भी परीक्षार्थी को परीक्षा केंद्र में प्रवेश की अनुमति नही होगी। पुलिस बल द्वारा परीक्षा केंद्र के प्रवेश द्वार पर परीक्षार्थियों की पूर्ण जांच पड़ताल की जाएगी तथा बायोमैट्रिक उपस्थिति भी दर्ज की जाएगी। परीक्षा केंद्रों में किसी को भी मोबाईल फोन व अन्य इलैञ्चट्रोनिक उपकरण ले जाने की अनुमति नही होगी।
नगराधीश विजेंद्र हुड्डïा ने कहा कि सायं कालीन सत्र में आयोग द्वारा दोपहर बाद 3 बजे से साढ़े 4 बजे तक लिखित परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। इसके लिए परीक्षार्थियों को दोपहर बाद 1 बजे से 2 बजे तक परीक्षा केंद्रों में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी तथा 2 बजे के बाद किसी भी परीक्षार्थी को परीक्षा केंद्र में प्रवेश की अनुमति नही होगी। जिला प्रशासन द्वारा सभी परीक्षा केंद्रों के लिए डियूटी मैजिस्ट्रेट नियुञ्चत किए गए हैं। यह संबंधित अधिकारी परीक्षा के दिन जिला खजाना कार्यालय से प्रश्न पत्रों के सील बंद पैकेट प्राप्त करके उनकों अॅलाट किए गए परीक्षा केंद्रों पर पहुंचाना तथा वापसी में उîार पुस्तिका प्राप्त करके उपमंडल अधिकारी (नागरिक ) कैथल के कार्यालय में जमा करवाना सुनिश्चित करेंगे। यह अधिकारीगण पूरे समय परीक्षा केंद्र का निरीक्षण करेंगे। परीक्षार्थी ओएमआर सीट में दिए गए गोलों को भरने के लिए केवल आयोग द्वारा प्रदान किए गए पैन का ही प्रयोग करेंगे। किसी भी परीक्षार्थी को परीक्षा समाप्त होने से पहले परीक्षा केंद्र से बाहर जाने की अनुमति नही दी जाएगी। परीक्षा के लिए नियुञ्चत स्टाफ अपने साथ कोई भी इलैञ्चट्रोनिक और संचार उपकरण परीक्षा कक्ष के अंदर लेकर नही जाएगा तथा केंद्र अधीक्षक यह सुनिश्चित करेगा कि परीक्षा के लिए नियुञ्चत सभी स्टाफ ने अपना मोबाईल फोन इत्यादि परीक्षा से पूर्व उनके पास जमा करवा दिया है। हिदायतों की पालना न करने पर केंद्र अधीक्षक स्वयं जिक्वमेवार होगा।
जिला शिक्षा अधिकारी जोगिंद्र हुड्डïा ने कहा कि इन लिखित परीक्षा के लिए 35 शिक्षण संस्थाओं ने 43 परीक्षा केंद्र स्थापित किए गए हैं। जगदीशपुरा स्थित डा. भीम राव अंबेडकर राजकीय महाविद्यालय में 2 परीक्षा केंद्र तथा आरकेएसडी कालेज में 3 परीक्षा केंद्र, जाट शिक्षा संस्था में 3 परीक्षा केंद्र, इंदिरा गांधी स्नातकोîार महिला महाविद्यालय में 2 परीक्षा केंद्र, इंदिरा गांधी वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय में 2 केंद्र, ओएसडीएवी पद्ब्रिलक स्कूल में 2 केंद्र, हैरिटेज इंटरनेशनल स्कूल में 1 परीक्षा केंद्र, राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय व राजकीय कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय तलाई बाजार में 1-1 परीक्षा केंद्र, ओम प्रभा जैन वरिष्ठï मॉडल स्कूल में एक परीक्षा केंद्र, हिंदू द्ब्रवायज वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय तथा हिंदू कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय में एक-एक परीक्षा केंद्र, सनशाईन पद्ब्रिलक स्कूल में एक केंद्र, अखिल भारतीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय में एक केंद्र, इंडस पद्ब्रिलक स्कूल में एक केंद्र, दिल्ली पद्ब्रिलक स्कूल में एक केंद्र, राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में एक केंद्र, लिटल क्रलावर विजीटेशन कान्वेंट स्कूल में 2 केंद्र, सैनी वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय चंदाना गेट में एक केंद्र, एनआईआईएलएम युनिवर्सिटी में एक केंद्र, जाट वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय में 3 केंद्र, स्वामी विवेकानंद वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय में एक केंद्र, एस.एस. बाल सदन वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय में एक केंद्र, पट्टïी अफगान स्थित राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय में एक केंद्र, राधा कृष्ण वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय में एक केंद्र, जाखौली अड्डïा स्थित राजकीय कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय में एक केंद्र, ग्यारह रूद्री विद्या मंदिर वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय में एक केंद्र, संत कबीर वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय में एक केंद्र, अंबेडकर नगर स्थित आञ्चसफोर्ड वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय में एक केंद्र, सरस्वती बाल विहार वैष्णों कालोनी में एक केंद्र, खुराना रोड स्थित गुरू तेगबहादुर खालसा पद्ब्रिलक स्कूल में एक केंद्र तथा चंदाना गेट स्थित प्रो. एसएस मैमोरियल पद्ब्रिलक उच्च विद्यालय में एक परीक्षा केंद्र स्थापित किया गया है।
आयोग के प्रतिनिधि सुभाष चंद्र ने कहा कि आयोग द्वारा दिव्यांग परीक्षार्थी हेतू 30 मिनट अतिरिञ्चत समय निर्धारित किया गया है तथा वे अपने साथ एक व्यञ्चित को ला सकेंगे। दिव्यांग परीक्षार्थी को अपना पहचान पत्र तथा दिव्यांग प्रमाण-पत्र साथ लाना होगा तथा 40 प्रतिशत से ज्यादा दिव्यांगता को ही इस श्रेणी में शामिल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आयोग द्वारा सभी रिकोर्ड रखने के लिए विशेष तरह का लिफाफा तैयार किया गया है, जिसको एक बार सील करने के बाद खोला नही जा सकेगा। सभी केंद्र अधीक्षक ध्यान पूर्वक सभी दस्तावेज डालने के बाद इन लिफाफों को सील करें। इन लिफाफों पर केंद्र अधीक्षक की मोहर सहित हस्ताक्षर अनिवार्य रूप से किए जाने हैं। आयोग द्वारा केंद्र अधीक्षकों को उपस्थिति सीटस एवं अन्य सामग्री भी वितरित की गई।
इस मौके पर डियूटी मैजिस्ट्रेट, रवि भूषण गर्ग, केंद्र अधीक्षक, शिक्षण संस्थाओं के प्रतिनिधि तथा आयोग के अन्य प्रतिनिधि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here