स्व:चेतना परम चेतना में लय कर देना, आत्मा का परमात्मा से मिलन है योग : सांसद नायब सिंह सैनी

0
428

स्व:चेतना परम चेतना में लय कर देना, आत्मा का परमात्मा से मिलन है योग : सांसद नायब सिंह सैनी
5वें अंतर्राष्टï्रीय योग दिवस पर सांसद ने की शिरकत, योग साधकों संग की विभिन्न योगिक क्रियाएं, आयुष विभाग की प्रदर्शनी का किया अवलोकन।
कैथल, 21 जून (कृष्ण गर्ग)
सांसद नायब सिंह सैनी ने कहा कि संयम पूर्वक साधना करते हुए स्व:चेतना को परम चेतना में लय कर देना या आत्मा का परमात्मा से मिलन योग है। योग एक कला है, जो हमारे शरीर, मन और आत्मा को एक साथ जोड़ता है तथा हमें एकाग्रता प्रदान करता है। योग भारत की धरोहर है, जिसका पालन आज पूरा विश्व कर रहा है। योग को विश्व पटल पर लाने का श्रेय देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है, जिन्होंने संयुक्त राष्टï्र महासभा में दूनिया के देशों को अंतर्राष्टï्रीय योग दिवस मनाने का संकल्प सर्वसम्मति से अनुमोदित करवाया था।
सांसद नायब सैनी 5वें अंतर्राष्टï्रीय योग दिवस पर स्थानीय महाराजा सूरजमल जाट स्टेडियम में आयोजित कार्यक्र्रम में योग साधकों को बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे। इससे पूर्व सांसद नायब सैनी, उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी, पुलिस अधीक्षक वसीम अकरम, अतिरिक्त उपायुक्त आरके सिंह, बीजेपी जिला अध्यक्ष अशोक गुर्जर आदि ने दीपशिखा प्रज्ज्वलित कर योग कार्यक्रम का शुभारंभ किया। सांसद नायब सैनी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि योग की शुरूआत भारत पूर्व वैदिक काल में हुई मानी जाती है। योग हमारी जीवन शैली का हिस्सा रहा है। यह ज्ञान, क्रम और भक्ति का आदर्श मिश्रण है। आज योग की महत्ता को जानकार इसे विश्व पटल पर अपनाया गया है, जिसका श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है। आज की भौतिक भाग-दौड़ को देखते हुए योग का अभ्यास अति आवश्यक है, क्योंकि नियमित योग करने से जहां हमारे शरीर में स्फूर्ति का संचार होता है, वहीं कई असाध्य बीमारियों से छुटकारा भी मिलता है।
सांसद नायब सैनी ने कहा कि भारत देश में साधु सन्यासियों, ऋषि मुनियों द्वारा योग सभ्यता को शुरू से ही अपनाया गया था। दुनिया भर के अनगिनत लोगों ने योग को अपने जीवन का अभिन्न अंग बनाया है और इससे होने वाले लाभ को प्राप्त किया है। योग करने से समस्त मानव जाति का कल्याण होगा और शरीर स्वस्थ होगा। स्वस्थ व्यक्ति ही देश और समाज का हित कर सकता है। योग सभी को जोडऩे का कार्य करता है। इसके नियमित अभ्यास से हमें मानसिक, शारीरिक, अध्यात्मिक और सामाजिक रूप से स्वस्थता प्राप्त होती है। यह तनाव को कम करने में मदद करता है और समग्र्र स्वास्थ्य को बनाए रखता है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और हरियाणा प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल योग और स्वच्छता के दो लोकहित के मुद्दे को प्राथमिकता के आधार पर लेकर चल रहे हैं। योग और स्वच्छता होगी तो नि:संदेह हम विभिन्न प्रकार की बीमारियों से बचे रह सकते हैं।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में राज्य सरकार द्वारा योग और आयुर्वेद को बढ़ावा देने के लिए कुरूक्षेत्र में आयुष विश्वविद्यालय की स्थापना के साथ-साथ पंचकूला में राष्टï्रीय आयुर्वेद योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा संस्थान, जिला झज्जर के गांव देवरखाना में योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा एवं रिसर्च संस्थान की स्थापना भारत सरकार के सहयोग से की जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने योग को बढ़ावा देने के लिए राज्य के 6500 गांवों में व्यायामशालाएं खोलने का निर्णय लिया गया है, जिसके तहत अब तक 1 हजार 2 व्यायामशालाएं स्थापित की जा चुकी हैं। मुख्यमंत्री ने प्रदेश में राजनीति के मायने बदले हैं। क्षेत्रवाद और परिवारवाद की नीति को खत्म किया है। हरियाणा एक-हरियाणवी एक की बात को चरितार्थ किया है। प्रदेश के लोग मुख्यमंत्री द्वारा लागू की गई नीतियों पर मुहर लगाकर उन्हें भरपूर समर्थन दे रहे हैं। अंतर्राष्टï्रीय योग दिवस कार्यक्रम का समापन्न सांसद ने संकल्प व शांति पाठ से करवाया।
इस मौके पर उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी, पुलिस अधीक्षक वसीम अकरम, अतिरिक्त उपायुक्त आरके सिंह, बीजेपी जिलाध्यक्ष अशोक गुर्जर, पूर्व विधायक लीला राम, मनीष कठवाड़, संजय भारद्वाज, सुरेश गर्ग नौच, राजपाल तंवर, कैलाश भगत, पाला राम सैनी, सुभाष संधु, अशोक सैनी, शंकुतला वजीर खेड़ा, शैली मुंजाल, सिविल सर्जन एसके नैन, वीसी श्रेयांश दिवेदी, डीडीपीओ राजबीर खुंडिया, रोडवेज महाप्रबंधक रामकुमार, जिला आयुर्वेदिक अधिकारी पूनम वालिया, जिला शिक्षा अधिकारी जोगिंद्र हुड्डïा, उपकृषि निदेशक डॉ. पवन शर्मा, ऋषि पाल बेदी, एमई राजकुमार शर्मा, डॉ. दिनेश पवार, डॉ. एचएस हुड्डïा, चंद्रशेखर, रामचरण आदि मौजूद रहे।

बाक्स: सांसद ने योग साधकों संग की विभिन्न योगिक क्रियाएं।
5वें अंतर्राष्टï्रीय योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में सांसद नायब सिंह सैनी ने योग साधकों के साथ योग प्रोटोकॉल के तहत चालन, ग्रिवा चालन क्रियाओं, ताड़ासन, वृक्षासन, पादहस्तासन, अर्धचक्रासन, त्रिकोणासन, दंडासन, भद्रासन, वज्रासन, अर्ध उष्टï्रासन, शशकासन, उतानमंडूकासन, वक्रासन, मक्रासन, भुजंगासन, शलभासन, सेतुबंधासन, उत्तानापादासन, अर्धहलासन, पवनमुक्तासन, शवासन आदि योगिक क्रियाएं की। इसके बाद कपालभाति, अनुलोम विलोम, शीतली तथा भ्रामरी प्राणायाम भी किया। उन्होंने सभी योग साधकों को संकल्प व शांति पाठ भी करवाया। योग प्रोटोकॉल के तहत सभी योग आसनों, प्राणायामों को करने के बारे में सावधानियां व उनके लाभ के बारे में योग प्रशिक्षक रामचरण ने विस्तृत रूप से सभी को जानकारी दी।

बाक्स: सांसद ने किया आयुष विभाग की प्रदर्शनी का अवलोकन।
पांचवें विश्वस्तरीय योग दिवस पर आयुष विभाग द्वारा सेमिनार का आयोजन किया गया, जिसका उद्घाटन सांसद नायब सिंह सैनी ने किया। उन्होंने इस अवसर पर आयोजित प्रदर्शनी का अवलोकन किया। सेमिनार में पॉवर प्वाईंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से योग की महत्ता के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई। इस मौके पर योग के संग चले प्रस्तुति पर बच्चों द्वारा विभिन्न अद्भूत योगिक क्रियाएं की गई, जिसे देखकर सभी अभिभूत हो गए। इस मौके पर उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी, पुलिस अधीक्षक वसीम अकरम, अतिरिक्त उपायुक्त आरके सिंह, जिला आयुर्वेदिक अधिकारी पूनम वालिया, बीजेपी जिलाध्यक्ष अशोक गुर्जर, पूर्व विधायक लीला राम, मनीष कठवाड़, संजय भारद्वाज, राजपाल तंवर, सुरेश गर्ग, डॉ. एचएस हुड्डïा, डॉ. दिनेश पवार, चंद्रशेखर सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।
फोटो- केटीएल01

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here