485 योजनाओं व सेवाओं का लाभ सुनिश्चित करने के लिए ऑपरेटरों को प्रशिक्षण

0
549


कैथल, 2 फरवरी (कृष्ण गर्ग)
हरियाणा सरकार द्वारा नागरिकों को पारदर्शी तरीके से उपलद्ब्रध करवाई जा रही 485 योजनाओं व सेवाओं का लाभ सुनिश्चित करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा सरल केंद्रों के ऑपरेटरों एवं संबंधित विभागों के ऑपरेटरों को प्रशिक्षण प्रदान किया गया है। मुक्चयमंत्री सुशासन सहयोगी चंद्राणी रॉय तथा जिला विज्ञान सूचना अधिकारी दीपक खुराना द्वारा इन ऑपरेटरों को प्रशिक्षण दिया गया है।
मुक्चयमंत्री सुशासन सहयोगी चंद्राणी रॉय ने आज लघु सचिवालय स्थित कांफ्रेंस हॉल में इन केंद्रों व विभिन्न विभागों के ऑपरेटरों को प्रशिक्षण प्रदान किया। सरल पोर्टल पर प्राप्त होने वाले आवेदनों की सेवाओं व योजनाओं का लाभ सेवा का अधिकार अधिनियम में निर्धारित समयावधि के दौरान ही दिया जाना होता है। इस पोर्टल पर प्राप्त होने वाले आवेदनों के निपटारे की समय-समय पर उच्चाधिकारियों द्वारा जिला स्तर पर समीक्षा की जाती है तथा राज्य स्तर पर भी सभी जिलों के प्रदर्शन की समीक्षा की जाती है। इसी प्रदर्शन के आधार पर जिलों को रैंकिंग प्रदान की जाती है।
उन्होंने बताया कि माननीय मुक्चयमंत्री मनोहर लाल द्वारा गत 25 दिसंबर को सरल व अंत्योदय केंद्रों के माध्यम से 37 विभागों की 485 सेवाओं व योजनाओं को ऑनलाईन किया गया था। हरियाणा एक ही छत के नीचे यह सुविधा उपलद्ब्रध करवाने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। प्रदेश में जिला में 5 ऐसे केंद्र स्थापित हैं, जिनमें एक सरल केंद्र व एक अंत्योदय केंद्र जिला मुक्चयालय पर स्थित है। इसकेे अलावा उपमंडल कलायत, उपमंडल गुहला व पूंडरी तहसील कार्यालयों में अंत्योदय सरल केंद्र स्थापित किए गए हैं। कैथल मुक्चयालय पर लघु सचिवालय में सरल केंद्र व पटवार भवन कमेटी चौक पर अंत्योदय केंद्र कार्यरत हैं। अंत्योदय सरल योजना का मुक्चय उद्देश्य सभी योजनाओं व सेवाओं को एक ही ऑनलाईन प्लेटफार्म पर उपलद्ब्रध करवाना, आवेदन प्रक्रिया पेपरलैस है। इन केंद्रों पर नागरिकों को पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर टोकन दिया जाता है, ताकि उन्हें लाईन में न लगना पड़े। नागरिकों को विभिन्न प्रक्रियाओं के लिए एक ही स्थान पर दस्तावेज जमा करवाने से लेकर भुगतान तक का सारा कार्य एकल खिड़की पर होता है।
फोटो- केटीएल02

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here