');}

कैथल की सहकारी चीनी मिल को तकनीकी दक्षता में दूसरा पुरस्कार प्रदान

कैथल, 28 सितंबर (कृष्ण गर्ग)
नेशनल फैडरेशन ऑफ कॉपरेटिव शुगर फैक्टरी नई दिल्ली द्वारा कैथल की सहकारी चीनी मिल को तकनीकी दक्षता में दूसरा पुरस्कार प्रदान किया गया है। यह पुरस्कार कल नई दिल्ली में सहकारी चीनी मिल की ओर से अतिरिक्त उपायुक्त कैप्टन शक्ति सिंह तथा मिल के निदेशक मंडल ने दिल्ली में इंडिया हैबीटैट सैंटर में केंद्रीय सडक़ परिवहन व हाईवे, जल संसाधन मंत्री  नितिन गडक़री से प्राप्त किया। आज अतिरिक्त उपायुक्त कैप्टन शक्ति सिंह तथा निदेशक मंडल के सदस्य उपायुक्त  सुनीता वर्मा से कार्यालय में मिले तथा तकनीकी दक्षता में प्राप्त प्रशस्ति पत्र  सौंपा तथा शुगर मिल प्रबंधन की ओर से उपायुक्त का आभार व्यक्त किया।
सहकारी चीनी मिल की अध्यक्षा एवं उपायुक्त  सुनीता वर्मा ने मिल की शानदार उपलब्धि का श्रेय इस क्षेत्र के किसानों तथा मिल कर्मचारियों को देते हुए कहा कि द्वितीय पुरस्कार के रूप में मिल का चुना जाना बड़ी उपलब्धि है। पिराई सत्र 2016-17 के दौरान मिल ने 37.22 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई कर मिल के स्थापना वर्ष से अब तक की उच्चतम 10.13 प्रतिशत की चीनी रिकवरी दर से 3.76 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है। अतिरिक्त उपायुक्त एवं मिल के प्रबंध निदेशक कैप्टन शक्ति सिंह ने मिल की इस उपलब्धि पर कर्मचारियों को बधाई देते हुए मिल की उपलब्धि मिल के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों में लिखी जाएगी। इस चीनी मिल ने 26 पिराई सत्रों में काफी उतार-चढ़ाव देेखे हैं तथा अब यह मिल सफलता की राह पर अग्रसर है। उपायुक्त ने कहा कि मिल का प्रबंधन व स्टाफ इस प्रकार की उपलब्धियों को आगे भी बरकरार रखेगा। इस मौके पर शुगर मिल के प्रबंध निदेशक एवं नगराधीश सुशील कुमार, कमलकांत तिवारी, शमशेर सिंह, दिवान सिंह, जितेंद्र कादियान, जोगेंद्र सिंह, संजीव छौत, सुभाष बारना आदि मौजूद रहे।

You can leave a response, or trackback from your own site.

Leave a Reply