');}

अज्ञात व्यक्तियों द्वारा हत्या व शव खुर्द-बुर्द करने के मामले में 2 आरोपि गिरफ्तार

ktl01

कैथल 06 जनवरी (कृष्ण गर्ग)
अनाज मंडी चीका की चाय कैंटीन के नजदीक 14 दिसंबर की सुबह मिले नामालुम व्यक्ति के शव बारे अज्ञात व्यक्तियों द्वारा हत्या व शव खुर्द-बुर्द करने के मामले को सीआईए-1 द्वारा 2 आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए सुलझा लिया गया है। मृतक ट्रक चालक की हत्या उसके परिचित एक अन्य ट्रक के चालक व परिचालक द्वारा 80 हजार रुपये लूटने के लिए उसे विश्वास में लेकर जघन्यता पुर्वक सिर में हथौडे से कई वार करते उपरांत चद्दर से गला घोंट कर पंजाब में की गई थी। गिरफ्तार किए गये सीवन निवासी दोनों आरोपियों द्वारा शव को चीका में इस नियत के साथ डाला गया था, कि पुलिस कार्रवाई पर उनकी नजर बनी रहे। काबिले जिक्र है कि एस.पी. आस्था मोदी के कुशल नेतृत्व में पुलिस सुझबुझ पुर्ण तरीके से आधुनिकतम तकनीक द्वारा जांच कर जघन्य अपराधियों पर निरंतर त्वरित गति से शिकंजा कस रही है, तथा उक्त मामला भी पुलिस अधीक्षक के आदेशानुसार 3 जनवरी को क्राइंम ब्रांच के सुपर्द किया गया था। लूटी गई नकदी तथा वारदात में प्रयुक्त हथौडे व चद्दर की बरामदगी के लिए दोनों आरोपियों का 6 जनवरी को न्यायालय से दिनांक 9 जनवरी तक 3 दिन के लिए पुलिस रिमांड हासिल किया गया है।
पुलिस पी.आर.ओ. रोशन लाल खटकड़ ने बताया कि सीआईए-1 में बुलाई गई प्रैस वार्ता दौरान क्राइंम ब्रांच प्रभारी इंस्पेक्टर महाबीर सिंह द्वारा अज्ञात व्यक्ति के ब्लाइंड मर्डर मिस्ट्री का खुलाशा किया गया। सहायक उपनिरिक्षक रमेश कुमार, एएसआई जितेंद्र कुमार, हैडकांस्टेबल कटार सिंह, एचसी नरेश कुमार, कांस्टेबल करनैल सिंह व सिपाही सुमित कुमार की टीम द्वारा सीवन बस अड्डा के पास दबिश दी गई, तथा आरोपी ङ्क्षरकु कुमार व रवि कुमार (दोनों करीब 21 वर्षीय) वासियान नजदीक बजाज एजैंसी सीवन को भादसं. की धारा 302,201,394,34 अंतर्गत गिरफ्तार कर लिया गया। काफी वर्षो से सीवन में रहने वाले दोनों आरोपी मूल रुप से राजनगर टोहाना जिला फतेहाबाद निवासी बताए गये है, जो करीब 3 माह से सुरेश कुमार निवासी पीडल के ट्रक नं. एचआर 64ए-5734 पर क्रमश: चालक-परिचालक की नौकरी करते है।
प्रवक्ता ने बताया कि 14 दिसंबर 2017 की सुबह नई अनाज मंडी चीका में स्वीपर का कार्य करने वाले करीब 55 वर्षीय रशपाल मंडी का राउंड लगा रहा था, तो उसे चाय कैंटीन दीवार के पास करीब 50 वर्षीय व्यक्ति का शव दिखाई दिया, जिसके सिर, माथे व गर्दन पर चोटों के निशान थे, जिसकी सुचना उसने पुलिस को दी। अज्ञात व्यक्ति की हत्या के आरोप में नामालुम व्यक्तियों के खिलाफ थाना चीका  में मामला दर्ज कर जांच शुरु की गई। अंतत: मामला नहीं सुलझने पर दिनांक 3 जनवरी को अभियोग क्राइंम ब्रांच प्रभारी इंस्पेक्टर महाबीर के सुपर्द किया गया, जिनकी टीम द्वारा 3 दिन मध्य ही वारदात का पर्दाफाश कर दिया गया। मृतक की शनाख्त गांव मारक (जम्मु-कश्मीर) निवासी रणजीत सिंह के रुप में की जा चुकी थी, जो ट्रक नं. जेके 02एयू-3821 पर चालक की नौकरी करता था। आरोपी चालक परिचालक अपने ट्रक में 12 दिसंबर को ट्रक मालिक के कहने उपरांत दिल्ली से चावल किन्की लेकर पंजाब के जिला फतेहगढ़ अंतर्गत अमन राईस मिल डेरा मीर मीरा पहुंचे, जहां ट्रक में 5 क्विंटल किन्की कम मिली, तो राईस मिल मालिक द्वारा पैसे काटने की कहने कारण उन्होंने उस दिन किराया नहीं लिया। उसी दिन दोहपर को रणजीत अपने ट्रक में यूपी से जीरी लेकर मिल में पहुंचा था, जहां अगले दिन मिल मालिक ने अपने कार्यालय में बुलाकर ङ्क्षरकु व रणजीत को किराया दे दिया। रणजीत के पास काफी नकदी देखकर दोनों के मन में नकदी लूटने की योजना बनाई गई। दोनों के ट्रक एक साथ राईस मिल से निकले, तो टोडर मल चौंक सरहिंद के पास अपने ट्रक की लाईटों से ईशारा करके रिंकु के ट्रक को रुकवा कर उन्हें बताया कि मेरे ट्रक का गीयर खराब हो गया, मुझे शहर की जानकारी नहीं है, सामान दिलवा दो। मौका तलाश रहे दोनों आरोपियों द्वारा रणजीत को अपने ट्रक में बिठा लिया गया, तथा रिपेयर सामान दिलवाने के बहाने राजपुरा रोड पर सांय करीब 4 बजे एकांत में ट्रक रोककर रणजीत के सिर पर हथौडा से कई वार करके उसे अधमरा कर दिया, तथा चद्दर से गला घोंटकर हत्या करने 80 हजार रुपये नकदी व मोबाइल फोट लूट लिया। आरोपियों द्वारा पटियाला के नजदीक लूटे गये मोबाइल से सिम निकाल कर फैंक दिया गया तथा ट्रक में शव सहित कमहेडी, बदसुई कल्लर माजरा होते हुए शाम करीब 6:30 बजे अनाज मंडी चीका पहुंचे। बेफिक्र आरोपियों द्वारा मौका देखकर यहां शव फैंक दिया गया, ताकी आगामी पुलिस कार्रवाई पर नजर रखी जा सके। पुछताछ दौरान चालक रिंकु द्वारा लूटे गये  50 हजार रुपये व परिचालक रवि द्वारा 30 हजार रुपये बरामद करवाने के अतिरिक्त अपने ठिकाने पर छिपाया गया हथौडा व चद्दर बरामद करवाना कबुला गया है, जिनका व्यापक पुछताछ के लिए 3 दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया गया है।

You can leave a response, or trackback from your own site.

Leave a Reply