');}

सरकार संघर्ष टालना चाहती है, तो मांगे पूरी करें: बैनीवाल

कैथल 06 जनवरी (कृष्ण गर्ग)
अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति अध्यक्ष मंडल हरियाणा द्वारा जाट आरक्षण सहित अन्य मांगोंं को सरकार द्वारा पूरा न किए जाने को लेकर मंत्रियों के आवासों का जो घेराव किया जाना था, उसमें इन दिनों पड़ रहे घने कोहरे व धुंध को देखते हुए परिवर्तन किया गया है। संघर्ष समिति अध्यक्ष मंडल के नेता भरत सिंह बैनीवाल व संघर्ष समिति के जिला प्रधान जोगिंद्र कसान ने बताया कि 3 जनवरी को केंद्रीय मंत्री वीरेंद्र सिंह के आवास का जींद में घेराव किया जाना था, जो अब 20 जनवरी को किया जाएगा। इसी प्रकार मतलौडा में परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार के आवास का घेराव 27 जनवरी को तथा करनाल में मुख्यमंत्री के आवास का घेराव 3 फरवरी को किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यदि सरकार इस संघर्ष को टालना चाहती है, तो वह समय रहते संघर्ष समिति अध्यक्ष मंडल के साथ बातचीत करके सरकार द्वारा मानी गई मांगोंं को लागू करे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा नौकरियां में जातीय आधार पर प्रस्तुत किए गए आंकड़े गलत हैं। उन्होंने कहा कि सरकार न्यायालय में गलत आंकड़े पेश करके जाट समाज सहित 6 जातियों को आरक्षण के लाभ से वंचित रखना चाहती है। उन्होंने कहा कि जब तक जाट समाज  सहित 6 जातियों को आरक्षण नहीं मिल जाता, जब तक उनका संघर्ष जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि यशपाल मलिक समाज के हितैषी नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में यशपाल मलिक व सांसद सैनी ने भाईचारा बिगाडऩे का काम किया है। इसलिए उन पर देश द्रोह का मुकद्दमा दायर किया जाए और उनके सभी कार्यक्रमों पर रोक लगाई जाए।

You can leave a response, or trackback from your own site.

Leave a Reply