');}

नेत्रहीन लोगों के परिवारों में उजाला लाने के उद्देश्य से रात-रात भर नेत्रदान के पुझय कार्य में लगे

लाडवा, 11 जनवरी(संजय गर्ग): नेत्रदान महादान के अभियान को जारी रखते हुए कडकती सर्दी के बावजूद नेत्रदान समिति लाडवा के सदस्य नेत्रहीन लोगों के परिवारों में उजाला लाने के उद्देश्य से रात-रात भर नेत्रदान के पुझय कार्य में लगे रहते है। गत 8 जनवरी को लाडवा के वार्ड-3 निवासी समाजसेवी गोपी चंद रहेजा की माता 95 वर्षीय रूकमणी देवी का स्वर्गवोस हो गया। जिनके मरणोपरांत परिजनों की सहमति से नेत्रदान समिति के सेवादारों ने नेत्रदान का कार्य किया। समिति के सेवादार गुरमीत सिंह शेरा ने जानकारी देते हुए बताया कि समिति के सदस्य नि:स्वार्थभाव से नेत्रदान, देहदान, स्कीन दान व रक्तदान का कार्य करते है। जिसमें माधव नेत्रबैंक करनाल की टीम आकर नेत्रों को ग्रहण करती है और योग्य युवाओं को आंखें लगाकर उनके जीवन को रोशन करने का काम करती है। उन्होंने बताया कि अब तक लाडवा में 33 से ज्यादा नेत्रदान करवाए जा चुकें। इस अवसर पर उनके साथ दीपक सिंघल, सुनील मलिक, सुरेश मेहरा, डा. राज छाबड़ा, नवीन गर्ग, योगेंद्र काम्बोज, पंकज बंसल भी मौजूद थें।

You can leave a response, or trackback from your own site.

Leave a Reply